Schottky Diode क्या है और Schottky डायोड का उपयोग क्या हे ?

Schottky diode kya hai, hindipeak, hindi tech news

आप सभी को Hindipeak.net पर स्वागत हे, दोस्तों क्या आपको पता है की Schottky Diode क्या है (What is Schottky diode in Hindi), Schottky Diode का आविष्कारक कौन है? और schottky डायोड का उपयोग क्या है ( Where schottky diode used in hindi).अगर आप इलेक्ट्रॉनिक की अध्यन करते हे तो आप को schottky diode के बारेमे जरुर जानना चाहिए .

तो readers आज की इस लेख में हम Schottky Diode क्या है? ,Schottky Diode का आविष्कारक कौन है?, Schottky Diode का उपयोग क्या है , Schottky Diode कैसे काम करता हे? आदि के बारेमे आप को पूरी जानकारी दूंगा .

Schottky Diode के बारेमे पूरी जानकारी पाने के लिए यह लेख को आखिर तक पढ़िए.

Schottky Diode का आविष्कारक कोन है?

Schottky Diode का आविष्कार जर्मन भौतिक विज्ञानी Walter H Schottky ने किया है, जिसे Schottky Barrier Diode या Hot-Carrier Diode के रूप में भी जाना जाता है.

Schottky Diode क्या है? (what is Schottky Diode in Hindi)

अन्य Diode की तरह, Schottky Diode एक Circuit में Current प्रवाह की दिशा को नियंत्रित करता है. यह उपकरण इलेक्ट्रॉनिक्स की दुनिया में one-way सड़कों की तरह काम करते हैं, जो केबल Current को एनोड से कैथोड तक जाने देता है. हालांकि, Standard Diode के विपरीत, Schottky डायोड अपने Low forward voltage और तेजी से स्विच करने की क्षमता के लिए जाना जाता है.

Schottky Diode एक Semiconductor Diode है जो एक धातु( metal ) के साथ Semiconductor के Junction द्वारा बनाया गया है। यह Low forward voltage drop और बहुत तेजी से Switching action करता है. प्रारंभिक Power Application में उपयोग किए जाने वाले wireless और Metal Rectifier के शुरुआती दिनों में उपयोग किए जाने वाले cat’s-whisker Detector को Schottky Diode का आरंभ माना जा सकता है.

shottky diode kya hai, hindipeak

 

Schottky Diode के उपयोग

  • Power Rectification के लिए: Schottky  Doide का उपयोग High Powe application में इसके Low forword voltage drop के लिए किया जा सकता है। यह डायोड कम बिजली बर्बाद करेंगे और आपके heatsink के size को कम कर सकते हैं.
  • Multiple Power Supplies के लिए: Schottky डायोड Dual-power Supply setup में Power को अलग रखने में मदद कर सकता है, जैसे कि Mains Supply और बैटरी।
  • Solar Cells के लिए: Schottky Diode अपने Low forward voltage drop के साथ Solar cell efficiency को अधिकतम करने में मदद कर सकते हैं. बेह सेल को रिवर्स चार्ज से बचाने में भी मदद करते हैं।
  • Clamping के लिए: Schottky डायोड को एक Transistor Circuit के भीतर एक Clamp के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है,जैसे 74LS या 74S Logic Circuit मे.

Schottky Diode कैसे काम करता है?

एक Typical diode p-n junction बनाने के लिए p-type और n-type Semiconductor का संयोजन करता है.एक Schottky डायोड metal में p-type Semiconductor की जगह, यह प्लैटिनम से लेकर टंगस्टन, molybdenum, सोना, आदि तक हो सकती है.

 p-n junction diode,hindipeak, electronics element

जब metal को एक n-type Semiconductor के साथ जोड़ा जाता है तो एक m-s junction बनता है. यह जंक्शन को Schottky barrier के रूप में जाना जाता है. Schottky barrier का व्यवहार इस बात पर निर्भर करता है कि डायोड Unbiased, Forward biased या Reverse biased अवस्था में है या नहीं.

Unbiased State मै:

Unbiased state में, संतुलन स्थापित करने के लिए free electron, n- type Semiconductor से धातु(metal) तक चले जाएंगे. इलेक्ट्रॉनों के इस प्रवाह ने Schottky barrier बनाया जहां Negitive और Positive ion मिलते हैं. इस अवरोध को दूर करने के लिए Free electron को अपने Built-in voltage की तुलना में अधिक Supply Energy की आवश्यकता होगी.

unbiased state, hindipeak

Forword-biased State मै:

एक बैटरी के Positive Terminal को धातु(metal) से जोड़ने और Negitive terminal के n-type सेमीकंडक्टर को Negitive terminal से जोड़ने से Forword-biased state बनेगी. इस स्थिति में, इलेक्ट्रॉन n-type से धातु (metal) तक Junction को पार कर सकते हैं यदि applied voltage 0.2 volt से अधिक है. इससे अधिकांश diode के लिए current का प्रवाह होता है. forward biased

Reverse-Biased State में :

एक बैटरी के Negitive terminal को धातु (metal) और Positive terminal को n-type सेमीकंडक्टर से जोड़ने से Reverse-biased state बन जाएगी. यह state schottky barrier का विस्तार करता है और विद्युत प्रवाह को रोकता है. हालांकि, अगर Reverse bias voltage में वृद्धि जारी है, तो यह अंततः barrier को तोड़ सकता है. schottky diode reverse biased state, hindipeak, hindi tech news यदि आपको यह पोस्ट Schottky Diode क्या है और schottky डायोड का उपयोग क्या हे ? पसंद आया या कुछ सिखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जसे की Facebook, Twitter, instagram और दुसरे Social media sites पर share कीजिए.



संबंधित लेख

निष्कर्ष

Schottky Diode क्या है अगर आप ये जानना चाहते थे, तो मुझे उम्मीद है आब आप जान चुक्के है . फिर भी अगर कुछ ऐसा है Schottky Diode का आविष्कारक कौन है? और Schottky Diode से जुडी जो अभी भी आपको जानना है तो आप  HindiPeak.net website पर search करके देह सकते है.

यह जानकारी आपको केसा लगा comment करके जरुर बताये, और अगर आपको कही कोई दिकत आ रहा है तो आप comment कर के बे झिजक पूछ सकते है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here